SSC CHSL क्या है। Exam पैटर्न, सिलेबस, जरुरी डाक्यूमेंट्स और टिप्स। SSC CHSL २०२३ गाइड

SSC CHSL की तैयारी के लिए सही जानकारी आपके लिए आवश्यक है।  इस परीक्षा में कम्पटीशन बहुत ज़्यादा होता है, हर साल लाखों छात्र इस नौकरी के लिए आवेदन करते हैं। इस आवेदनों की संख्या हर साल बढ़ रही है, इसलिए उचित तैयारी करना अनिवार्य है ताकि आप इस परीक्षा में सफलता प्राप्त कर सकें।

परीक्षा पैटर्न, पूर्ण जानकारी, पात्रता मानदंड, आयु सीमा, एग्जाम सिलेबस, और मॉडल का विस्तारपूर्वक वर्णन सभी कुछ हमारे इस लेख में उपलब्ध है, तो बिना किसी संदेह के आखिर तक पढ़ने का समय निकालें। SSC CHSL के बारे में सभी जानकारी प्राप्त करें।

SSC CHSL की जानकारी प्राप्त करने से पहले, आइए जानें कि SSC क्या है?

"SSC का Full Form है 'स्टाफ सिलेक्शन कमीशन' (कार्मिक चयन आयोग)। यह एक संस्था है, जो भारत में विभिन्न प्रकार के विभागों के कर्मचारियों का चयन करती है, और इस परीक्षा का आयोजन सरकार द्वारा होता है।

ये अलग-अलग प्रकार की नौकरियों के लिए अलग-अलग फॉर्म निकालती है, जैसे- SSC MTS, SSC GD, SSC CHSL इत्यादि। इन परीक्षाओं को पास करने के बाद आप सरकारी नौकरी प्राप्त कर सकते हैं, लेकिन इसके लिए आपको काफी तैयारी और मेहनत करनी होगी।

"सरल शब्दों में, यह संस्था केंद्र सरकार की भर्ती आयोग है।"

SSC CHSL क्या है?

SSC CHSL का full form स्टाफ सिलेक्शन कमीशन कम्बाइंड हायर सेकेंडरी लेवल एग्जामिनेशन होता है, जो एक उच्च माध्यमिक स्तर की परीक्षा है। यह परीक्षा लोअर डिविजन क्लर्क, डाटा एंट्री ऑपरेटर, और पोस्टल क्लर्क के पदों पर उम्मीदवारों की भर्ती के लिए सालाना आयोजित की जाती है।

यह भारत में SSC द्वारा एक प्रतियोगी परीक्षा है। यह भारत सरकार के मंत्रालयों, विभागों और संगठनों में अलग-अलग पदों के लिए हर साल परीक्षा ली जाती है।

इस परीक्षा में भाग लेने वाले प्रतिभागियों की शैक्षणिक योग्यता 12वीं पास अथवा किसी उसी के समकक्ष किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड पास हुआ हो। SSC CHSL की परीक्षा 3 स्टेज में ली जाती है-

  • Stage 1- परीक्षा के पहले स्तर में आपको कंप्यूटर आधारित (Computer Based test) परीक्षा देनी पड़ती है। इस स्टेज में शामिल विषयों में अंग्रेजी भाषा, सामान्य ज्ञान, रीजनिंग, गणित और जनरल अवेयरनेस शामिल हैं। इसमें आपको एक प्रश्न के चार ऑब्जेक्टिव आंसर मिलते हैं जिनमें से आपको एक सही उत्तर का चयन करना होता है।
  • Stage 2- परीक्षा के दूसरे स्तर में आपको विस्तृत या व्याख्यात्मक आधारित परीक्षा देनी पड़ती है। इस परीक्षा के माध्यम से candidates के writing skills के बारे में पता चलता है। उन्हें अंग्रेजी या हिंदी में एक निबंध पत्र लिखना होता है।
  • Stage 3- परीक्षा के तीसरे चरण में स्किल टेस्ट या टाइपिंग टेस्ट की परीक्षा देनी पड़ती है। इस परीक्षा के माध्यम से उम्मीदवारों को अपनी डाटा इनपुट स्पीड और राइटिंग स्किल्स को दिखाना पड़ता है।

SSC CHSL के लिए आयु सीमा (Age limit)

इस परीक्षा के लिए आयु सीमा अलग-अलग पदों के अलग-अलग रखी गई है। आप जिस भी पोस्ट के लिए आवेदन कर रहे हैं उसकी उम्र सीमा अवश्य चेक लें।

लोअर डिविजन क्लर्क (LDC), जूनियर क्लर्क असिस्टेंट, पोस्टल असिस्टेंट (PA), कोटेशन असिस्टेंट और डाटा एंट्री ऑपरेटर के पदों के लिए आयु सीमा-
न्यूनतम आयु - 18 वर्ष
अधिकतम आयु - 27 वर्ष
भारत के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक कार्यालय में डाटा एंट्री ऑपरेटर पद के लिए आयु सीमा -
न्यूनतम आयु - 18 वर्ष
अधिकतम आयु - 27 वर्ष

SSC CHSL में कौन-कौन से पोस्ट होते हैं ?

यह परीक्षा भारत सरकार के मंत्रालय, विभागों और संगठनों में विभिन्न पदों के लिए काम पर रखने की पेशकश करती है।

SSC CHSL के माध्यम से उपलब्ध मुख्य पोस्ट है-

Lower Division Clerk (LDC) और Junior Secretariat: इन पदों में आमतौर पर डाटा, प्रस्तुति, प्रलेखन और सामान्य कार्यालय का कार्य शामिल है, जिसमें प्रशासनिक और प्रशासनिक अधिकार शामिल है।
Court Clerk: इन पदों में न्यायिक वातावरण में प्रशासनिक कार्य शामिल है, जिसमें न्यायालय दस्तावेजों का रखरखाव, दस्तावेजों की प्रस्तुति और प्रशासनिक कार्यों में न्यायाधीशों और वकीलों की सहायता शामिल है।
Postal Assistant और Sorting Assistance: यह प्रकाशन डाक सेवाओं से जुड़े हुए हैं और इसमें मेल के वर्गीकरण और वितरण, रजिस्टरओं के रखरखाव जैसे कार्य शामिल है।
Data Entry Operator (DEO): सिस्टम में डाटा के प्रवेश और प्रबंधन के लिए जिम्मेदार है। वे डेटाबेस, गणना पत्रक के अनुप्रयोग और संगठन द्वारा डाटा से संबंधित कार्यों का प्रबंधन करते हैं।

SSC CHSL के लिए जरुरी डाक्यूमेंट्स

इसके आवेदन पत्र को पूरा करने के लिए निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता है-

  • फोन नंबर
  • मेल आईडी
  • आधार नंबर/ वोटर कार्ड/ पैन कार्ड/ पासपोर्ट/ ड्राइविंग लाइसेंस
  • कक्षा 10 का रजिस्ट्रेशन नंबर, रोल नंबर, उत्तीर्ण वर्ष
  • JPEG format में 20 से 50 केबी तक का पासपोर्ट आकार का स्कैन किया हुआ फोटो
  • JPEG format में 10 से 20 केबी तक स्कैन किए गए हस्ताक्षर
  • विकलांगता प्रमाण पत्र क्रमांक, विकलांगता की स्थिति में

SSC CHSL Exam का Pattern

यह परीक्षा मॉडल को दो लेवल में होता है। SSC CHSL  मॉडल प्रत्येक लेवल के लिए अलग है। सेलेक्ट होने के लिए आवेदकों को हर एक स्टेज में निर्धारित किये गए लाना होता है। उम्मीदवारों को प्रत्येक स्तर के लिए SSC CHSL Exam Pattern को समझना चाहिए ताकि वह बेहतर तैयारी कर सकें।

SSC CHSL Marking

SSC CHSL मार्किंग स्कीम नवीनतम CHSL परीक्षा मॉडल के आधार पर स्थापित की गई है। आप परीक्षा में प्रत्येक सही उत्तर के लिए 2 अंक पाएंगे।

Tier 1 परीक्षा के लिए अधिकतम अंक 200 है। CHSL Tier 1 परीक्षा में कुल 4 विषय/ अनुभाग है और प्रत्येक अनुभाग में 25 प्रश्न होंगे और प्रत्येक section 50 अंक का होगा।

दूसरी ओर level-2 में 3 अंकों के भार के साथ 135 प्रश्न होते हैं। भर्ती के अगले चरण में आगे बढ़ने के लिए आवेदकों को न्यूनतम योग्यता अंक पूरे करने होंगे।

SSC CHSL Syllabus In Hindi

SSC CHSL पाठ्यक्रम SSC द्वारा अधिकारिक नोटिस में प्रकाशित किया जाता है। सभी स्तरों के लिए SSC CHSL पाठ्यक्रम का उल्लेख आधिकारिक अधिसूचना में अलग से किया जाता है। बेहतर अंक प्राप्त करने के लिए उम्मीदवारों को विषयों के अनुसार योजना बनाने और परीक्षा की तैयारी करने की आवश्यकता है।

आवेदकों को चाहिए की वो सिलेबस को अच्छी तरह से पढ़ें और उसी के आधार पे अपने परीक्षा की तैयारी करें। अगर आप अच्छी तैयारी करना चाहतें हैं तो आप एकबार सिलेबस को जरूर पढ़ें।

SSC CHSL Eligibility Criteria In Hindi

इस परीक्षा के लिए सभी पात्रता शर्तें आधिकारिक अधिसूचना में उल्लिखित रहता है। पात्रता मानदंड एस.एस.सी सी.एच.एस.एल आवेदकों को पूरा करना होगा:

  • आवेदक भारतीय नागरिक होना चाहिए
  • नेपाल या भूटान का नागरिक
  • तिब्बती शरणार्थी
  • भारतीय मूल का व्यक्ति
  • आयु सीमा (Age limit)- इसकी आधिकारिक अधिसूचना में पात्रता शर्तों का संक्षेप में उल्लेख किया गया है। व्यक्ति की आयु 18 से 27 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • शैक्षणिक योग्यता- यह उन सभी आवेदकों के लिए आवश्यक हैं जिन्होंने 12वीं कक्षा पूरी कर ली है या इसके बराबर की शिक्षा प्राप्त की है। बारहवीं कक्षा के छात्र भी आवेदन करने के पात्र हैं।

SSC CHSL एप्लीकेशन फॉर्म कैसे भरें

SSC CHSL देने के इच्छुक प्रतिभागी एकबार जरूर इसके जारी किये गए आधिकारिक नोटिफिकेशन को जरूर पढ़ें। जिससे की आपको पता चल जाये की आपको क्या-क्या जरुरी डॉक्युमेंट्स अप्लाई करने के वक्त लगेगा।

SSC का official website: यहाँ क्लिक करें

आवेदन पत्र पूरा करने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करें-

Step 1 - SSC CHSL रजिस्ट्रेशन प्रोसेस

  • एसएससी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं
  • Apply बटन पर क्लिक करें फिर एसएससी सीएचएसएल पर क्लिक करें
  • स्क्रीन पर अगली Window खुलेगी
  • अपना आधार नंबर या कोई आईडी नंबर, नाम, पिता का नाम, माता का नाम, जन्मतिथि, कक्षा 10 बोर्ड का नाम, रजिस्ट्रेशन नंबर, रोल नंबर, और उत्तीर्ण वर्ष, लिंग, शिक्षा, स्थाई पता, मोबाइल नंबर, और ईमेल आईडी
  • OTP दर्ज करके अपने मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी की पुष्टि करें।
  • आपको अपने मोबाइल नंबर पर अपना पंजीकरण नंबर और पासवर्ड प्राप्त होगा।

Step 2 - फोटो और हस्ताक्षर अपलोड करें

आवेदकों को SSC CHSL द्वारा निर्धारित किये गए सभी डॉक्युमेंट्स का एक स्कैन कॉपी तैयार कर लेना है।

SSC के नियमानुसार अनुसार आवेदन पत्र पर अपने पासपोर्ट आकार के फोटो और अपने हस्ताक्षर की स्कैन की गई फोटो को अपलोड करना होगा।

फोटो का आकार 20 से 50KB और हस्ताक्षर का आकार 10 से 20KB के बीच होनी चाहिए।

Step 3 - SSC CHSL एप्लीकेशन फॉर्म भरने का प्रोसेस

  • तस्वीरें अपलोड करने के बाद रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी
  • अपना एजुकेशन डिटेल्स और कांटेक्ट डिटेल्स पूरा करें।
  • अपना कास्ट, राष्ट्रीयता, और पहचान पत्र है तो उसे दर्ज करें। अगर आप SC, ST, OBC या EWS जाति से सम्बन्ध रखते हैं फिर आप ध्यान रखे की आपके पास जातीय प्रमाण पत्र होना अनिवार्य है।
  • टाइपिंग टेस्ट बॉक्स पे टिक करे उसके बाद अपना परीक्षा केंद्र का चुनाव करें। ध्यान रहे आपको कुल तीन परीक्षा केंद्रों को चुनना होगा।

मुझे स्वीकार है (I agree) बटन पर क्लिक करके पूरा करें।

ऊपर दिए गए प्रक्रिया के पूरा होने के बाद अब हमलोग पंजीकरण शुल्क भरने की प्रक्रिया समझेंगे।

SSC CHSL Application Fee

अलग-अलग जाति अथवा वर्ग के अलग अलग एप्लीकेशन फीस होते हैं। हमने नीचे पंजीकरण शुल्क और SSC CHSL पेमेंट प्रोसेस करने के तरीके को अच्छे से समझाया है, जिसे पढ़ने के बाद आपका डाउट क्लियर हो जायेगा।

जनरल कैंडिडेट्स - 100 रुपया

एस.सी, एस.टी, एक्स-सर्विस मेन, महिला उम्मीदवार - 0 रुपया

SSC CHSL की तैयारी कैसे करें?

हर एक परीक्षा कड़ी मेहनत और सही रणनीति के साथ अगर दी जाए तो जरूर आप उसे पास कर सकते हैं। SSC CHSL की तैयारी करना चाहते हैं तो आप बिना देरी किये आज से ही अपना टारगेट सेट करें और उसकी तैयारी में लग जाएँ। हमारी तरफ से आपलोगों के लिए विशेष सलाह नीचे दी गयी है, उसे जरूर पढ़ें और आजमाएं।

एक शेड्यूल निर्धारित करें - परीक्षा के लिए शेड्यूल निर्धारित करना बहुत महत्वपूर्ण होता है। इस तरह छात्रों को एक ऐसी संरचना मिलती है जो उनके अध्ययन को सुविधाजनक बनाती है।

रिवाइज- समीक्षा इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि ऐसा करने से पिछली सभी शंकाओं (doubts) का समाधान हो जाता है।

मॉक टेस्ट सॉल्विंग- ये आपको परीक्षा को समझने और समय प्रबंधन की तैयारी में मदद करता है।

पिछले वर्षों की प्रश्नोत्तरी हल करें- अधिक सटीक परीक्षा तैयारी के लिए, छात्रों को पिछले वर्षों की प्रश्नोत्तरी हल करने की आवश्यकता होती है। इस तरह छात्र परीक्षा के प्रारूप से परिचित हो जाएंगे।

गति और सटीकता पर ध्यान दें- गति और सटीकता का सही संयोजन आपको परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन करने में मदद करता है। जैसे-जैसे आप अपने पाठ्यक्रम में आगे बढ़ते हैं और मॉक टेस्ट देना शुरू करते हैं, अपने आप बेहतर होती जाएगी।


निष्कर्ष

उम्मीद है आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा। इस लेख में हमने SSC CHSL के बारे में विस्तृत जानकारी प्रस्तुत की है, जो खुद को इस परीक्षा के लिए तैयार करने का इरादा रखने वाले उम्मीदवारों के लिए महत्वपूर्ण है। हमने SSC CHSL का महत्व, परीक्षा पैटर्न, पात्रता मानदंड, एग्जाम सिलेबस, और अन्य महत्वपूर्ण जानकारी को सम्मिलित किया है, ताकि आप अपनी तैयारी को समझ सकें और इसमें सफलता प्राप्त कर सकें।


SSC CHSL एक बहुत ही लोकप्रिय परीक्षा है और इसमें कठिनाईयों का सामना करने की जरूरत होती है।
आप निरंतर प्रयास करते रहें, अपनी कमियों पर काम करें और अध्ययन में लगे रहें। विश्वास रखें कि आपकी मेहनत और उत्साह से आप जबरदस्त परिणाम प्राप्त करेंगे।
एक टिप्पणी भेजें (0)
और नया पुराने